परीक्षार्थी के लिए अनुदेश

  1. फोटो पहचान पत्र के आधार पर पहचान सुनिश्चित हो जाने एवं तलाशी के उपरान्त ही परीक्षार्थी को केन्द्र में प्रवेश दिया जायेगा।
  2. ओ.एम.आर. उत्तर पत्रक की निर्धारित प्रविष्टियों को भरने और उत्तर को गोला करने के लिए परीक्षार्थी को नीली स्याही का पारदर्शी बॉल पेन स्वयं को लाना होगा। अन्य किसी प्रकार का पैन लाने की अनुमति नहीं है।
  3. असुविधा से बचने के लिए परीक्षार्थी परीक्षा प्रारम्भ होने से 01 घण्टे 30 मिनट पहले परीक्षा केन्द्र पर अवश्य उपस्थित हों जावें, ताकि सतर्कता दल द्वारा प्रतिबंधित सामग्री बाबत उनकी तलाशी समय पर पूरी हो जाए। तलाशी के लिए पंक्तिवद्ध शांतिपूर्वक खडे रहेंगे एवं केन्द्र परिसर में भी पूर्ण शान्ति बनाये रखेंगे। परीक्षा कक्ष में आपको परीक्षा के लिए निर्धारित समय से 30 मिनट पूर्व ही प्रवेश दिया जायेगा। इस दौरान आपका किसी भी प्रकार का दुर्व्यवहार दुराचरण की श्रेणी में माना जाकर आपके विरूद्ध कार्यवाही की जा सकेगी।
  4. परीक्षा केन्द्र में किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा प्रारम्भ होने के नियत समय के पश्चात् प्रवेश नहीं दिया जायेगा। परीक्षा प्रारम्भ करने के लिए नियत समय मध्यान्ह 12:00 बजे परीक्षा केन्द्र का प्रवेश द्वार बन्द कर दिया जायेगा। इसके पश्चात् किसी भी परीक्षार्थी को प्रवेश नहीं दिया जायेगा।
  5. परीक्षार्थी परीक्षा कक्ष मे अपने लिए निर्धारित सीट पर ही बैठे, अन्य सीट पर बैठने पर उनकी अनुपस्थिति दर्ज की जा सकती है।
  6. परीक्षा प्रारंभ होने से आधे घंटे पश्चात् तक एवं समाप्त होने से आधा घंटा पूर्व तक की अवधि में शौचालय व पेशाब आदि कार्य से कक्ष से बाहर जाने की अनुमति नहीं होगी।
  7. किसी परीक्षार्थी को ई-एडमिट कार्ड साथ लाए बिना परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं है।
  8. परीक्षा प्रारम्भ होने से पूर्व और परीक्षा कक्ष में परीक्षार्थी की तलाशी ली जा सकेगी।
  9. परीक्षा समाप्त होने पर अभिजागर को ओ.एम.आर. उत्तर पत्रक सौपनें के बाद ही परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष छोडने की अनुमति होगी।
  10. उत्तर लिखने से पूर्व परीक्षार्थी को प्रश्न पत्र बुकलेट और ओ.एम.आर. उत्तर पत्रक की भली-भांति जांच कर लेनी चाहिए कि दोनों का क्रमांक समान है, यदि इनके क्रमांक कोई भिन्नता है तो वीक्षक से दूसरा प्रश्न पत्र/उत्तर पत्रक प्राप्त कर लें। ऐसा न करने पर अभ्यर्थी स्वयं की जिम्मेदारी होगी। परीक्षार्थी प्रश्न पत्र के प्रथम पृष्ठ एवं ओ.एम.आर. उत्तर पत्रक की मूल प्रति के प्रथम पृष्ठ और दूसरी प्रति (कार्बन प्रति) के पीछे के पृष्ठ पर उल्लेखित निर्देशो का भली-भांति अध्ययन कर लें। किसी प्रश्न के अंग्रेजी और हिन्दी अनुवाद में अन्तर होने की स्थिति में अंग्रेजी भाषा के प्रश्न को सही माना जायेगा ।
  11. परीक्षा के दौरान परीक्षार्थी प्रश्न-पत्र बुकलेट का कोई भी पृष्ठ या उसका हिस्सा अलग नहीं करेंगे। ऐसा करने पर बोर्ड द्वारा आपराधिक प्रकरण दर्ज कराने के अलावा दण्डात्मक कार्यवाही भी की जा सकेगी।
  12. परीक्षार्थी को बोर्ड की वेबसाईट www.rsmssb.rajasthan.gov.in पर परीक्षा से संबंधित उपलब्ध प्रेस विज्ञप्तियों एवं निर्देशों का सावधानी से पालन करना होगा।
  13. परीक्षार्थी को परीक्षा सम्पन्न होने के पश्चात् प्रश्न-पत्र बुकलेट और ओ.एम.आर. उत्तर पत्रक की कार्बन प्रति साथ ले जाने की अनुमति है। मूल ओ.एम.आर. शीट को परीक्षार्थी द्वारा स्वयं फाड कर अलग नहीं करना चाहिए। अन्यथा ओ.एम.आर. उत्तर पत्रक के क्षतिग्रस्त होने पर वह स्वयं उत्तरदायी होंगे। इन्हें अभिजागर स्वयं सावधानी से अलग कर एकत्रित करेंगे।
  14. परीक्षा मे शामिल होने के लिए बोर्ड द्वारा निर्धारित ड्रेस कोड की पालना अनिवार्य है।
  15. विशेष योग्यजन जिन्हें नियमों के अन्तर्गत श्रुतलेखक की सुविधा देय है, वे परीक्षा की नियत तिथि से तीन कार्य दिवस पूर्व केन्द्राधीक्षक को सक्षम चिकित्सा अधिकारी द्वारा जारी किये गये प्रमाण-पत्र के साथ इस सुविधा के लिए आवश्यक रूप से आवेदन प्रस्तुत करें अन्यथा सुविधा उपलब्ध कराना सम्भव नहीं होगा।
  16. ओ.एम.आर. उत्तर पत्रक में निर्धारित प्रविष्टियों/उत्तर के गोले गहरे करने के अलावा कोई भी निशान या संकेत या लिखावट लिखना दण्डनीय है। कृपया उत्तर पत्रक ( ओ.एम.आर.) भरने से पूर्व उसके कार्बन प्रति पर दिए निर्देशों को ध्यान पूर्वक पढने के बाद ही ओ.एम.आर. शीट में प्रविष्टियां करें। ओ.एम.आर. शीट पर उत्तर में सही का निशान लगाना, आंशिक गोला भरना या गोले के अतिरिक्त पेन का छोटा या हल्का पाइन्ट भी लगाया जायेगा तो उस स्थिति में भी जवाब गलत माना जायेगा।
  17. अभ्यर्थी रेल/बस की छतों पर यात्रा नहीं करें तथा यात्रा के दौरान अनुशासन बनाये रखें।
  18. परीक्षा आयोजन के बाद यथा समय बोर्ड द्वारा मास्टर प्रश्न पत्र एवं उसकी उत्तर कुंजी बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड किये जायेंगे। उत्तर कुंजी अपलोड होने के पश्चात् 72 घण्टे की अवधि में प्रश्न पत्र/उत्तर कुंजी पर आपत्तियाँ आमंत्रित की जायेगी। प्रत्येक आपत्ति के लिए शुल्क राशि रू 100/- जमा करानी होगी।
  19. परीक्षा के दौरान किसी भी प्रकार के अनुचित साधन का प्रयोग करने पर परीक्षार्थी के विरूद्ध The Rajasthan Subordinate and Ministerial Services Selection Board Prevention of Unfair means in Board Examinations Regulations, 2016 के प्रावधानों के अन्तर्गत कार्यवाही की जायेगी। इन Regulations के प्रावधान बोर्ड की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।
 Page 1 of 2
राजस्थान सार्वजनिक परीक्षा (अनुचित साधानों के उपयोग की रोकथाम) हेतु दिशा-निर्देश
 
राजस्थान सार्वजनिक परीक्षा (अनुचित साधानों के उपयोग की रोकथाम) अधिनियम 1992 (1992 का अधिनियम संख्या 27) की धारा 6 के अन्तर्गत तीन साल तक सजा या रू. 2000/- तक जुर्माना या दोनों से दण्डित किया जा सकता है। इसी तरह धारा 7 के अन्तर्गत तीन साल तक सजा या रू. 5000/- तक जुर्माना या दोनों से दण्डित किया जा सकता है।
इसके अलावा राजस्थान अधीनस्थ एवं मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड अनुचित साधनों की रोकथाम रेगुलेशन, 2016 के अर्न्तगत निम्नानुसार अन्य कार्यवाही भी की जा सकती है:-
क्र.स. प्रकरण की प्रकृति दण्ड/ कार्यवाही
1 1) परीक्षा के दौरान बोर्ड के नियम/निर्देश, ई- प्रवेश पत्र में उल्लेखित निर्देश एवं परीक्षा से जुड़े हुये पदाधिकारियों के निर्देशों का उल्लघंन करना।
2) परीक्षा केन्द्र के परिसर (परीक्षा हॉल, शौचालय, बरामदे सहित) में परीक्षा अवधि में बातचीत करना एवं परीक्षा केन्द्र से निर्देशों के विपरीत बिना अनुमति चले जाना।
3) परीक्षा में चाही गई सूचनाऐं छुपाना।
अभ्यर्थी की परीक्षा निरस्त की जा सकती है।
2 1) परीक्षार्थी की सीट के पास परीक्षा हॉल की दीवारों, फर्नीचर परीक्षार्थी के शरीर के किसी अंग या कपड़ों पर प्रश्न पत्र के विषय की सामग्री लिखी हुई प्राप्त होना या पाया जाना, जिसका उपयोग नहीं किया गया हो।
2) अन्य परीक्षार्थी की उत्तरपुस्तिका से नकल करने का प्रयास करना।
अभ्यर्थी की परीक्षा निरस्त करने व एक साल की अवधि के लिए बोर्ड की परीक्षाओं में शामिल होने पर रोक लगाई जा सकती है।
3 1) उत्तरपुस्तिका से किसी प्रकार की छेड़छाड़/टेम्परिंग करने का प्रयास करना।
2) परीक्षार्थी के पास उपरोक्त बिन्दु संख्या 2(i) में वर्णित सामग्री जिसका प्रश्नपत्र हल करने में उपयोग किया गया हो, पाया जाना।
अभ्यर्थी की परीक्षा निरस्त करने व दो साल की अवधि के लिए बोर्ड की परीक्षाओं में शामिल होने पर रोक लगाई जा सकती है।
4 1) उत्तरपुस्तिका लेकर परीक्षा हॉल से भागना एवं उत्तर पुस्तिका फाड़ना।
2) निर्धारित घोषणाएँ/अंडरटेकिंग प्रस्तुत करने से इन्कार करना।
3) उत्तरपुस्तिका में अन्य परीक्षार्थी के रोल नम्बर लिखना।
4) उत्तरपुस्तिका में पहचान के चिन्ह बनाना।
अभ्यर्थी की परीक्षा निरस्त करने व तीन साल की अवधि के लिए बोर्ड की परीक्षाओं में शामिल होने पर रोक लगाई जा सकती है।
5 1) परीक्षा हॉल / परीक्षा केन्द्र में परीक्षार्थी के पास ब्लूटूथ या अन्य इलेक्ट्रोनिक उपकरण (सेलफोन, घड़ी, कैमरा आदि) पाया जाना या इनका उपयोग करना।
2) नकल के सबूत नष्ट करना या नष्ट करने का प्रयास करना
3) परीक्षा के पहले, परीक्षा के दौरान या के परीक्षा के बाद में परीक्षा से जुडे हुये पदाधिकारियों को डराना, धमकाना या उनसे दुर्व्यवहार करना।
4) प्रश्न पत्र हल करने में किसी अन्य व्यक्ति की सहायता लेना।
5) परीक्षा आवेदन में गलत सूचनाएं देना।
6) परीक्षा से जुडे हुये किसी भी व्यक्ति को अपने पक्ष में प्रभावित करने का प्रयास करें।
अभ्यर्थी की परीक्षा निरस्त करने व पाँच साल की अवधि के लिए बोर्ड की परीक्षाओं में शामिल होने पर रोक लगाई जा सकती है।
6 1) फर्जी/जाली दस्तावेज प्रस्तुत करना।
2) अपने स्थान पर किसी अन्य व्यक्ति से परीक्षा दिलवाना।
3) परीक्षा संचालन में व्यवधान उत्पन्न करना या उत्पन्न करने का प्रयास करना।
4) परीक्षा की गोपनीयता भंग करना/भंग करने का प्रयास करना।
5) बोर्ड/चयन बोर्ड पर अपने पक्ष में दबाव डालने का प्रयास करना।
6) परीक्षा केन्द्र में कोई भी अस्त्र-शस्त्र लेकर आना।
7) परीक्षा केन्द्राधीक्षक या परीक्षा से जुडे़ हुये किसी व्यक्ति के साथ हाथापाई करना/झगड़ा करना।
अभ्यर्थी की परीक्षा निरस्त करने व बोर्ड की परीक्षाओं में शामिल होने पर आजीवन रोक लगाई जा सकती है।
7 उपरोक्त के अलावा अन्य सभी प्रकरण। बोर्ड के निर्णय के अनुसार
  नोट:- विस्तृत जानकारी के लिए बोर्ड की वैबसाइट www.rsmssb.rajasthan.gov.in देखें।
 Page 2 of 2

कृपया उपरोक्त अनुदेशों को ध्यानपूर्वक पढ़े एवं एक कॉपी प्रिंट करवा कर परीक्षा केन्द्र में अपने साथ लेकर आवें।

क्या आपने उपरोक्त अनुदेशों का प्रिंट ले लिया है ?